खो खो खेल ki jankari in hindi | kho kho game

खो खो खेल के बारे में आपने सुना तो होगा ही पर क्या आप जानते हैं कि खो खो खेल प्रत्येक टीम में कितने खिलाड़ी होते हैं और खो खो खेल कैसे खेला जाता है, यदि आप यह नहीं जानते कि खो खो खेल कैसे खेला जाता है तो आप हमारे इस आर्टिकल पर बिल्कुल सही जगह पर पहुंचे हो क्योंकि यहाँ हम आपको बताएंगे कि खो खो खेल क्या होता है, खो खो खेल कैसे खेला जाता है ओर खो खो खेल की प्रत्येक टीम में कितने खिलाड़ी होते हैं।

तो ज्यादा टाइम ना लेते हुए चलते हैं नीचे ओर जानते हैं कि खो खो खेल क्या होता है।

 

खो खो खेल क्या होता है?

 

खो खो एक भारतीय खेल है, जिसकी शुरुआत महाराष्ट्र पुणे से मानी जाती है, खो शब्द को संस्कृत के श्यु शब्द से लिया गया है जिसका अर्थ खड़े ओर जाओ है। इस खेल की भारतीय स्तर पर प्रतियोगिता कराई जाती है। इस खेल की पुरषों की टीम की पहली प्रतियोगिता विजयवाडा में 1960 में कराई गई थी। और खो खो खेल में महिलाओं की पहली प्रतियोगिता कोहलपुर में 1961 में कराई गई थी। इस खेल के समान्य नियमों कि स्थापना 1914 मे की गई थी।

 

खो खो खेल के मैदान की जानकारी

 

खो खो खेल के मैदान का आकार आयताकार होता है, जिसकी लंबाई 29 मीटर ओर चौड़ाई 16 मीटर की होती है। खो खो के मैदान में वर्गों की संख्या 8 होती है।

 

खो खो खेल में प्रत्येक टीम के खिलाड़ियों की गिनती

 

खो खो खेल में प्रत्येक टीम के 9 खिलाड़ी होते हैं और 3 आरक्षित खिलाड़ी होते हैं। 9 खिलाड़ियों में से 8 खिलाड़ी मैदान में बैठते हैं और एक खिलाड़ी दौड़ते हुए दूसरी टीम के खिलाड़ियों को पकड़ने का प्रयास करता है वही दूसरी टीम के तीन खिलाड़ी दौड़ रहे होते है जिनको पकड़ कर खेल से बाहर करना होता है।

खिलाड़ियों के अलावा खो खो खेल में 6 अधिकारी होते हैं जो इस तरह से है एक रेफरी, दो एम्पायर, एक टाइम कीपर ओर 2 स्कोरर होते हैं।

 

Last Words:

दोस्तों आपने इस लेख में जाना कि खो खो खेल क्या है और इसको कैसे खेला जाता है इसके अलावा खो खो खेल के मैदान के बारे में कुछ सामान्य जानकारी के बारे में भी आपने इस आर्टिकल में जाना। हम उम्मीद करते हैं कि आप हमारे इस खो खो खेल के आर्टिक्ल के माध्यम द्वारा यह जान गए होंगे कि खो खो खेल में प्रत्येक टीम में कितने खिलाड़ी होते हैं और कितने अधिकारी होते हैं। ऐसी अन्य जानकारी के लिए आप हमारे ब्लॉग Rain Love Poetry के साथ जुड़े रहें शुक्रिया।

Leave a Comment