भारतीय किसान पर निबंध इन हिंदी | Indian Farmer Essay

दोस्तों आज हम भारतीय किसान निबंध आपके सामने पेश कर रहे हैं, इस निबंध से आप भारत के किसान के बारे में जान पाओगे आपको भारत के किसान की हालत का अंदाजा लग सकेगा, भारत का किसान कहने को तो खुशहाल है लेकिन आज भी किसानों का बहुत बड़ा हिस्सा गरीबी और कर्ज में डूबा हुआ है।

 

भारतीय किसान पर निबंध

भारत की बात की जाए और भारतीय किसान की बात की जाए तो दोनों का आपस में गहरा सबंध है। भारत से भारतीय किसान है और भारतीय किसान से ही भारत है क्योंकि भारत की अर्थव्यवस्था का बहुत बड़ा हिस्सा किसानी पर निर्भर करता है और भारत का किसान दिन रात मेहनत करके पूरे भारत का पेट भरता है। चाहे गर्मी के मौसम में धूप पड़ती हो या फिर सर्दी के मौसम में कड़ाके की ठंड हालात कैसे भी हो भारतीय किसान कभी झुकता नहीं हर परिस्थिति में लगा रहता है मेहनत करने।

 

भारत का किसान मेहनत करता है जिससे वो खुद खा सके और पूरे देश को खिला सके। लेकिन इसके बीच एक बात यह भी है कि भारत का किसान आज कर्ज़ में डूबा हुआ है, इसकी वजह है बेमौसम बरसात का हो जाना और ज़रूरत पर बरसात का ना होना जिससे किसानों की फसल खराब हो जाती है और उन्हें अपना काम चलाने के लिए कर्ज लेना पड़ता है फिर उस कर्ज़ के चक्कर मे किसान कर्ज में डूबता चला जाता है।

 

दूसरी बात आज का देखा जाए तो बहुत बड़ा हिस्सा किसानों का आधुनिक संसाधनों के बारे में जनता ही नहीं इसकी वजह उनका ज्यादा पढा लिखा ना होना और वो खेती को पुराने ढंग से ही करता आ रहा है या फिर जो जानते हैं उनके पास इतना पैसा नहीं कि वो उन संसाधनों का इस्तेमाल करके अपनी आमदनी को बढ़ा सकें।

 

इस वजह से भारत का किसान कर्ज में डूबता जा रहा है और लोग किसानी को छोड़ते जा रहे हैं। आज के समय मे ज़रूरत है किसान को शिक्षित करने की और उन्हें नए संसाधनों के बारे में जानकारी देने की जिससे वो अपनी आमदनी में बढ़ोतरी कर सकें और कर्ज मुक्त हो सकें।

 

भारतीय किसान फसल की बिजाई करता है फिर उसकी देखभाल करने के लिए दिन रात मेहनत करता है रातों को जागता है और फसलों को समय समय पर पानी देता है, यह मेहनत वह लगातार फसलों के तैयार जाने तक करता है आखिर जब फसल पक कर तैयार हो जाती है तो किसान के चेहरे पर खुशी आती है क्योंकि अब उसे अपनी मेहनत का फल मिलने वाला होता है फिर फसल की कटाई की जाती है और उसे बेच कर किसान अगली फसल को तैयार करने की तैयारी में लग जाता है। यह सिलसिला लगातार चलता रहता है।

Conclusion

दोस्तों आप भारतीय किसान निबंध से अंदाजा लगा सकते हो कि भारतीय किसान कितनी मेहनत करता है परंतु फिर भी वह कर्ज़ मुक्त नहीं हो पा रहा इसलिए हमें किसान की इज़्ज़त करनी चाहिए क्योंकि किसान मेहनत से तैयार करता है तभी हमें हमारे घरों में खाने को मिल पाता है।

Read More:

हीराकुंड बांध की जानकारी | निर्माण, इतिहास

Leave a Comment